टेक्नोलॉजी के 5 साइड इफेक्ट्स-technology side effects in hindi

Negative Effects:- कई ऐसी Technology हे जिसके बारे में हम यह अच्छी तरह से जानते हे की यह हमारी सेहत से खिलवाड़ कर रही हे लेकिन फिर भी इस बात को नजरअंदाज करते हुए हम उसका इस्तेमाल किये जा रहे हे जो की जानलेवा भी साबित हो सकता हे. यह हमारे लिए अच्छी बात हे की हम प्रगति के युग में जी रहे हे लेकिन आज के समय में Technology इंसानी जज्बातों पर हावी होती जा रही हे.

Technology side effects in hindi

हम यह अच्छे से जानते हे की किसी भी चीज की अति बुरी ही होती हे. देखा जाये तो हमारी जिंदगी में खुद से ज्यादा Technology की दखलअंदाजी बढती जा रही हे जैसे की Mobile, Computer, Laptop, Routeen Gadget आदि. जहाँ एक तरफ Technology हमें Update कर रही हे, हमारा काम आसान कर रही हे वहीं दूसरी तरफ हमें यह अंदर ही अंदर खोखला भी करती जा रही हे. आईये जानते Technology के Side Effects.

Technology 5 Side Effects


1. खतरनाक हे मोबाइल का रेडिएशन

रेडिएशन क्या है वो तो आप जानते हे आज लगभग हर घर में Mobile का इस्तेमाल किया जा रहा हे. सुबह उठने से लेकर रात को सोने तक Mobile से दूर रहना लोगों के लिए थोड़ा मुश्किल हो गया हे. लेकिन क्या आपको पता हे Mobile फोन से निकलने वाली रेडिएशन आपके लिए कितना खतरनाक हे. शोध बताते हे की Mobile रेडिएशन से लम्बे समय के बाद प्रजनन क्षमता में कमी, कैंसर, ब्रेन ट्यूमर और गर्भपात की संभावनाएं काफी हद तक बढ़ जाती हे. दरअसल हमारे शरीर में 70% पानी होता हे और यह पानी धीरे-धीरे Body में रेडिएशन को अब्जार्व करता हे और आगे जाकर सेहत के लिए काफी नुकसानदेह होता हे.

2. नींद पर असर

जब आप दिन रात सिर्फ और सिर्फ Technology के आदि हो जाते हे तब नींद ना आना एक आम समस्या हे. देर रात तक TV देखना, Mobile और Laptop चलाना भी आपकी नींद में बाधक बन सकता हे. यह ना तो आपकी सेहत के लिए अच्छा हे और ना ही आपके वैवाहिक जीवन के लिए.

3. रिश्तों में बढ़ रही दूरियाँ

Technology ने जिसे सबसे ज्यादा Effect किया हे वो हे Relationship. आज प्यार Online शुरू होता हे और Mobile फोन पर आकर खत्म हो जाता हे. एक ही बिस्तर पर सोते हुए दो व्यक्ति आपस में बातचीत ना कर अपने-अपने Social Groups में Busy रहते हे. निजी जीवन पर इसका बहुत बुरा असर पड़ता हे. पति-पत्नी आपस में प्यार के दो मीठे बोल के लिए तरस रहे हे. घर में पांच लोग साथ बैठकर भी आपस में बात नहीं करते हे क्योंकि अब प्राथमिकताएं बदल रही हे. परिवार से कई ज्यादा बढ़कर Social World में एक्टिव हे. इससे रिश्तों में दूरियाँ तो बढ़ ही रही हे और साथ में तनाव भी.

4. बीमारियों को बुलावा

जैसे जैसे तकनीक का दायरा बढ़ता जा रहा हे वैसे-वैसे ह रोज-रोज होने वाला सिरदर्द, Heart Attack, गुस्सा, तनाव, आलस्य जैसी समस्याएं तो बढती ही हे लेकिन साथ ही कई सारी खतरनाक बीमारियों को भी बुलावा दे रही हे. अभी हाल ही में हुयी Research से यह बात पता चली हे की Wifi के ज्यादा इस्तेमाल से कैंसर का खतरा बढ़ा हे. चार्ज करते हुए बात करने पर ज्यादा रेडिएशन का खतरा बढ़ा हे. इससे कमजोर याददाश्त, दिल की बीमारियाँ, ब्रेस्ट कैंसर, फैफडो का कैंसर और ब्रेन ट्यूमर जैसी खतरनाक बीमारियाँ भी हो सकती हे. ज्यादा देर तक Laptop पर काम करने से आँखों की रेटिना पर भी बुरा असर पड़ता हे.

5. अकेलापन और डिप्रेशन

जो लोग Technology की गिरफ्त में फंस चुके हे उनमे तनाव और गुस्सा होना एक आम बात हे. जो लोग Computer और internet का ज्यादा इस्तेमाल करते हे, उनकी दुसरे व्यक्तियों यहां तक की अपने परिवार वालो से भी बातचीत कम होती हे जिसकी वजह से उनमे डिप्रेशन की संभावना काफी बढ़ जाती हे. ऐसे में वे अकेलापन का शिकार हो जाते हे.

No comments:

Powered by Blogger.